अमित शाह बोले- बंगाल में हम सत्ता में आए तो हिंसा खत्म कर देंगे

अपने रोड शो के दौरान बंगाल में भड़की हिंसा के 2 दिन बाद भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर कहा कि बंगाल में ममता बनर्जी सरकार ने हिंसा को बढ़ावा दिया है. जबकि हम प्रचार के जरिए विपक्ष पर हमला करते हैं. उन्होंने दावा किया कि बंगाल में ममता राज में हमारे करीब 60 कार्यकर्ताओं को मारा गया. राज्य की कानून व्यवस्था की बात करते हुए कहा कि लॉ एंड ऑर्डर देखना राज्य सरकार का काम है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फाइल-PTI)

बंगाल में भड़की हिंसा के 2 दिन बाद भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर कहा कि बंगाल में ममता बनर्जी सरकार ने हिंसा को बढ़ावा दिया है. जबकि हम प्रचार के जरिए विपक्ष पर हमला करते हैं. उन्होंने दावा किया कि बंगाल में ममता राज में हमारे करीब 60 कार्यकर्ताओं को मारा गया. राज्य की कानून व्यवस्था की बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि लॉ एंड ऑर्डर देखना राज्य सरकार का काम है.

अमित शाह ने अंजना ओम कश्यप से बात करते हुए कहा कि बंगाल में जब हमारी सरकार आएगी तो हम हिंसा को खत्म कर देंगे. ममता राज में हिंसा बढ़ी है. नेताओं को चुनाव प्रचार के लिए रैलियों की इजाजत नहीं दे रही हैं. उन्होंने कहा कि रोड शो के दौरान अर्द्धसैनिक सुरक्षा बल मौजूद था जो उनकी सुरक्षा में थे न कि कानून-व्यवस्थादेखने के लिए. कानून-व्यवस्था देखने का काम राज्य सरकार का है.

विपक्षियों की आवाज बंद कर रही सरकार

उन्होंने राज्य सरकार पर दोष मढ़ते हुए कहा कि बंगाल सरकार ने मेरे हेलिकॉप्टर को उतरने नहीं दिया, जबकि अन्य राज्यों में ऐसा नहीं हुआ. अन्य नेता भी लगातार प्रचार कर रहे हैं. लेकिन अन्य राज्यों में किसी तरह की हिंसा नहीं हुई तो सिर्फ बंगाल में ही हिंसा क्यों हो रही है. क्योंकि ममता का शासन वहां पर है. ममता हिंसा के जरिए विपक्षियों की आवाज बंद कराना चाहती हैं.

अमित शाह ने ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को तोड़े जाने पर कहा कि राजनीतिक लाभ हासिल करने के लिए तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने विद्यासागर की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया. हम लोग तो गेट से बाहर सड़क पर थे. ताला टूटा नहीं और यह खुल गया. टीएमसी कार्यकर्ता वहां मौजूद थे, उन्होंने ही गेट का दरवाजा खोला. गेट की चाभी उन्हीं के पास ही थी.

चुनाव आयोग पर बरसते हुए आजतक से अमित शाह ने कहा कि चुनाव आयोग ने मेरे खिलाफ ममता बनर्जी के बयानों पर कुछ नहीं किया. आयोग की ओर से बंगाल में आज रात प्रचार खत्म किए जाने पर शाह ने कहा कि हमारी भी कई रैलियां प्रस्तावित थी, हमने भी रैलियां रद्द की.

पुलिस महज मूकदर्शक

राज्य की खराब कानून-व्यवस्था की बात करते हुए अमित शाह ने कहा कि राज्य में हिस्ट्रशीटर गुंडों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा. चुनाव आयोग क्या कर रहा है. लोकसभा चुनाव में उन्होंने दावा किया कि पार्टी को 300 से ज्यादा सीटें मिलेंगी.

इससे पहले बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह ने पीसी करते हुए मंगलवार को कोलकाता में रोड शो के दौरान समाज सुधारक ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़े जाने के मामले में बुधवार को तृणमूल कांग्रेस के ‘गुंडों’ को जिम्मेदार ठहराया. शाह ने बीजेपी मुख्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि देश भर में छह चरणों में चुनाव संपन्न हो चुका है लेकिन हिंसा की घटनाएं सिर्फ पश्चिम बंगाल में हो रही हैं.

उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी बीजेपी पर राज्य में हिंसा फैलाने का आरोप लगा रही हैं. वह केवल 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं, लेकिन बीजेपी पूरे देश में चुनाव लड़ रही है. बंगाल को छोड़कर और कहीं भी हिंसा की घटना होने की खबर नहीं है. इसका मतलब कि तृणमूल हिंसा के लिए जिम्मेदार है. शाह ने कहा कि उनके रोड शो के दौरान तीन हमले हुए लेकिन राज्य पुलिस महज मूकदर्शक बनी रही. उन्होंने बनर्जी पर सहानुभूति हासिल करने के प्रयास में विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ने की साजिश रचने का भी आरोप लगाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *