नागरिक सुरक्षा का 59वां स्थापना दिवस मनाया गया

रविवार दिल्ली नेटवर्क

जयपुर। नागरिक सुरक्षा विभाग द्वारा यहा निदेशालय नागरिक सुरक्षा भवन में नागरिक सुरक्षा का 59वां स्थापना दिवस मनाया गया। समारोह के मुख्य अतिथि श्री आनंद कुमार, प्रमुख शासन सचिव, आपदा प्रबन्धन, सहायता एवं नागरिक सुरक्षा विभाग द्वारा झण्डारोहण किया गया। समारोह में विशिष्ठ अतिथि श्री अंतर सिंह नेहरा जिला कलक्टर थे।

श्री पंकज चौधरी कमाण्डेंट एसडीआरएफ, श्रीमती कल्पना अग्रवाल संयुक्त शासन सचिव आपदा प्रबन्धन, ब्रिगेडियर भगवान सिंह, श्री बिजेन्द्र सिंह विशेषाधिकारी आपदा प्रबन्धन, श्री देशराज मीणा विशेषाधिकारी आपदा प्रबन्धन, श्री फूलचन्द चौधरी जे.एस.ओ. नागरिक सुरक्षा, श्री इन्द्रमल उप नियंत्रक नागरिक सुरक्षा, श्री जगदीश प्रसाद रावत उप नियंत्रक नागरिक सुरक्षा, श्री हंसराज गुप्ता मुख्य लेखाधिकारी, श्री राजेश कुमार मीणा चीफ वार्डन नागरिक सुरक्षा एवं अन्य विभागीय अधिकारी, कार्मिक एवं स्वयंसेवक समारोह उपस्थित रहे।

समारोह के दौरान मुख्य अतिथि द्वारा नागरिक सुरक्षा विभाग के श्री इन्द्रमल, उप नियंत्रक को राष्ट्रपति का विशिष्ठ सेवा पदक, श्री भवानी शंकर शर्मा, डिवीजनल वार्डन को राष्ट्रपति का सराहनीय सेवा पदक एवं श्री रामदीनाराम जाट, उप निंयत्रक, श्री श्यामसुदर राठी, श्री शिवराज वैष्णव, श्री जयपाल शर्मा, श्री महेन्द्र सिंह करणावत, श्री रामेश्वर दयाल यादव व श्रीमती अंजना गहलोत को महानिदेशक अग्निशमन, नागरिक सुरक्षा एवं गृह रक्षा, गृह मंत्रालय भारत सरकार के डीजीसीडी डिस्क व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किये गये। इसके साथ ही विभाग के 25 अधिकारियों/कार्मिकों/स्वयंसेवकों को उनके द्वारा किए गये सराहनीय कार्यों के लिए आयुक्त नागरिक सुरक्षा विभाग के प्रंशसा पत्र प्रदान किये गये।

समारोह में आपदा प्रबन्धन का जीवन्त प्रदर्शन किया गया जिसमें बम विस्फोट या अन्य किसी आपदा/विपदा के दौरान क्षतिग्रस्त भवनों के भूतल, स्मॉक रूम, उपरी मंजिलों इत्यादि से हताहतों को नागरिक सुरक्षा बचाव दलों की मदद से अलग अलग बचाव विधियों से निकालना दर्शाया गया। साथ ही आग लगने पर अग्निशमन दलों द्वारा प्रयोग में लिए जाने वाले अलग-अलग नॉजलों के उपयोग कर भीषण आग पर नियंत्रण करना बताया गया।

समारोह में मुख्य अतिथि श्री आनंद कुमार प्रमुख शासन सचिव आपदा प्रबन्धन, सहायता एवं नागरिक सुरक्षा विभाग ने राज्य में किये गये विभिन्न खोज व बचाव कायोर्ं में प्रथम रेस्पोंडर के रूप में कार्य, कोरोना महामारी के दौरान ’’कोरोना योद्धा’’ के बतौर मानवीय सहायता कार्य, स्थानीय स्तर पर राष्ट्रीय/राज्य की जनउपयोगी योजनाओं के क्रियान्वयन में जिला प्रशासन के सहयोग एवं स्थानीय स्तर पर लोगों को आपदा जागरूकता कार्यक्रम संचालन इत्यादि के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। साथ ही उन्होंने इस संगठन के जिला स्तर पर प्रभावी सुदृढ़ीकरण किये जाने पर बल दिया। उन्होंने नागरिक सुरक्षा स्वयंसेवकों की ग्राम स्तर तक मनोनयन किये जाने पर भी बल दिया। समारोह के अंत में मुख्य अतिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा विभाग के पास उपलब्ध खोज व बचाव उपकरणों की प्रदर्शनी को देखा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *