कप्तान सुनील छेत्री के गोल से भारत ने नेपाल को हरा पहली जीत दर्ज की

  • भारत के गोलरक्षक गुराप्रीत संधू ने किए बेहरतीन बचाव
  • भारत के कप्तान छेत्री और नेपाल के कप्तान किरण में रहा रोचक संघर्ष

सत्येन्द्र पाल सिंह
नई दिल्ली, 11 अक्टूबर, 2021

अनुभवी स्ट्राइकर कप्तान सुनील छेत्री द्वारा खेल खत्म होने से मात्र आठ मिनट पूर्व दागे एकमात्र व निर्णायक गोल की बदौलत भारत की पुरुष फुटबॉल टीम ने सैफ चैंपियनशिप 2021 में नेपाल को माले मालदीव में रविवार देर रात 1-0 से शिकस्त दी। तीन मैचों में पहली जीत के साथ भारत अब ग्रुप में अंक तालिका में पांच अंकों के साथ नेपाल (छह अंक) और मालदीव (छह अंकों) के बाद फिलहाल तीसरे स्थान पर है। भारत अपना अंतिम ग्रुप मैच मेजबान मालदीव से बुुधवार को खेलेगा।

भारत के कप्तान सुनील छेत्री और नेपाल के कप्तान किरण कुमार लिंबू के बीच मैच के शुरू में ही रोचक संघर्ष देखने को मिला। भारतीय खिलाडिय़ों ने बराबर गेंद सुनील छेत्री की ओर बढ़ाने की कोशिश की लेकिन कप्तान लिंबू ने मुस्तैदी दिखाकर कर नेपाल के किले को महफूज रखा। सुनील छेत्री ने लगभग बीसवें मिनट में तेज शॉट नेपाल के गोल की लगाया लेकिन लिंबू ने सही वक्त पर गेंद को कब्जे में ले अपनी टीम पर आया खतरा टाल दिया। कप्तान सुनील छेत्री ने खेल खत्म होने से आठ मिनट पहले गोल कर आखिरकार भारत का खाता खोला। बदलू खिलाड़ी फारूख चौधरी ने ब्रेंडन के पास पर सिर से गेंद को सुनील छेत्री की ओर बढ़ाया और उन्होंने बाएं पैर से जोरदार वॉली लगा गेंद को गोल में डाल दिया। सुनील छेत्री के गोल से भारत के बढ़त लेने के बाद नेपाल ने बराबरी पाने के लिए हमलों आखिरी सात मिनट में हमलों का तांता बांध दिया। नेपाल के अर्जुन बिस्ता गोल के सामने पहुंचे और तेज शॉट जमाया लेकिन भारत के गोलरक्षक गुरप्रीत संधू ने बढिय़ा बचाव किया। आयुष गलान ने खतरनाक क्रॉस को गोलरक्षक संधू ने रोक कर एक बार भारत के किले को महफूज रखा। भारत ने खेल खत्म होने से कुछ मिनट पहले नेपाल के कई हमलों को नाकाम कर आखिरी मैच जीत लिया।

भारत ने आक्रामक अंदाज में आगाज कर तीसरे ही मिनट में कॉर्नन हासिल किया लेकिन इस पर नेपाल की रक्षापंक्ति ने मुस्तैदी दिखाकर ब्रेंडन फर्नांडीज की कोशिश नाकाम कर दी। भारत ने ज्यादातर हमले दाएं छोर से बोले। सुरेश ने छोर बदल कर बाएं पहुंचे ब्रेंडन की ओर गेंद बढ़ाई लेकिन उनका शॉट निशाना चूक गया। सुरेश के एक औैर बढिय़ा पास पर मैच के 34 वें मिनट में प्रीतम कोटल गेंद को गोल में चूके और भारत के हाथ आया बढ़त लेने का मौका फिसल गया। सुरेश के एक और बढिय़ा क्रॉस पर छेत्री के बढिय़ा शॉट को जैसे तैसे लिंबू ने रोक कर एक बार फिर नेपाल को गोल खाने से बचाया।

भारत को दूसरे हाफ के दसवें मिनट में पेनल्टी बॉक्स के बाहर फ्री किक मिली लेकिन इस पर ब्रेंडन के शॉट पर गेंद गोल के बहुत करीब से बाहर निकल गई। मनवीर को यासिर के क्रॉस पर गोल करने का एक और मौका मिला लेकिन उनके ‘हैडर’ पर नेपाल कपान लिंबू ने रोक लिया। भारत ने इसके बाद मनवीर की जगह उदांत सिंह और सुरेश की जगह अनिरुद्ध थापा को मैदान पर उतारा। शुभाशीष को छेत्री के हेडर पर मिली गेंद पर गोल करने का बेहतरीन मौका मिला लेकिन उन्होंने लिंबू टोरसो के सीधे गेंद थमा। ब्रेंडन के सेट पीस पर सुनील छेत्री अपने मार्कर को छका गेंद को लेकिन निकले उनके हेडर गेंद गोल के उपर से बाहर निकल गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *