दिल्ली के बेहतरीन आक्रमण के सामने मेरी यह पारी बेहद अहम: धोनी

ऋषभ पंत बोले, चेन्नै के हाथों हार को बयां करने के लिए शब्द नहीं

सत्येन्द्र पाल सिंह

नई दिल्ली ; अनुभवी कप्तान और गुरू महेंद्र धोनी की चेन्नै सुपर किंग्स(सीएसके) चेले ऋषभ पंत की अगुआई वाली दिल्ली कैपिटल्स पर दुबई में 2021 आईपीएल के अहम पहले क्वॉलिफायर में दुबई में रविवार को भारी पड़ी। मुद्दत बाद धोनी ‘फिनिशर’ के अपने पुराने अंदाज में भारी पड़े और चेन्नै को दिल्ली पर दो गेंदों के बाकी बेहद रोमांचक मैच में चार विकेट से जीत दिलाकर सीधे फाइनल में पहुंचाने में सफल रहे है। चेन्नै ने इसके साथ ही दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ आईपीएल में पिछले लगातार चार मैचों में हार के सिलसिले को दुबई में तोड़ दिया। दिल्ली अंतिम लीग मैच और पहले क्वॉलिफायर सहित अपना लगातार दूसरा मैच आखिरी ओवर में हारी। पृथ्वी शॉ और खुद कप्तान पंत के अद्र्धशतकों की बदौलत दिल्ली के 20 ओवरों में 5 विकेट पर 172 रन के ïस्कोर के जवाब में ऋतुराज गायकवाड़ और राबिन उथप्पा के अर्धशतक तथा मुश्किल घड़ी में खुद कप्तान धोनी की मात्र छह गेंदों में नॉटआउट 18 रन की तूफानी पारी की बदौलत चेन्नै ने 19.4 ओवर में छह विकेट पर 173 रन बनाकर मैच जीत लिया।दिल्ली कैपिटल्स अब फाइनल में जगह बनाने के लिए दूसरे क्वॉलिफायर में इलिमिनेटर के विजेता से भिड़ेगी।

चेन्नै सुपर किंग्स की इस जीत के बाद उसके कप्तान धोनी ने माना कि दिल्ली के बेहतरीन गेंदबाज आक्रमण के सामने उनकी यह संक्षिप्त पारी बेहद अहम थी। वहीं पराजित दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने वे अपनी टीम की चेन्नै के हाथों इस हार से निराश हैं और उनके पास इसे बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं।

उथप्पा और मोइन में कोई भी तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता है: धोनी
चेन्नै के कप्तान धोनी ने कहा, ‘दिल्ली ने स्थितियों का लाभ उठाया और और हम जानते थे कि हमें मुश्किल होगी । मैं इस आईपीएल में अब तक बहुत कुछ कर नहीं पाया था और मैं गेंद को देखना चाहता था और साथ ही यह भी कि गेंदबाज क्या कर सकता हैं। मैं नेटस में अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था। मैं बहुत ज्यादा सोच नहीं रहा था। बल्लेबाजी करते हुए जब आप ज्यादा सोचते हैं तो आप अपनी योजना से भटक जाते हैं। शार्दूल औैर दीपक ने अच्छी बल्लेबाजी की है और उन्हें शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की बजाय खुल कर खेलने की इजाजत थी। रॉबिन उथप्पा शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी पसंद करते है,लेकिन तीसरे नंबर पर मोइन ने भी शानदार रहे हैं। हमने ऐसी स्थिति बनाई की प्रतिद्वंद्वी और हालात के मुताबिक इन दोनों में कोई भी तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता है। जब भी ऋतुराज और मैं बात करते हैं तो यह बहुत सीधी बात होती है। मैं यह जानने की कोशिश करता हूं कि वह क्या सोच रहे हैं। ऋतुराज के खेल में इतना सुधार बहुत अच्छा है और वह 20वें ओवर तक खेलना चाहते हैं। पिछले सीजन में पहली बार हमने प्ले ऑफ के लिए क्वॉलिफाई नहीं किया था। हमारे बहुत से बल्लेबाजों ने पिछले सीजन के अंतिम तीन मैचों का अच्छा इस्तेमाल किया और इस सीजन में हमने मजबूती से वापसी की।

गलतियों से सीखेंगे, उम्मीद है फाइनल में पहुंचेंगे : पंत
दिल्ली के कप्तान पंत ने कहा, ‘जहां तक आखिर ओवर टॉम करेन से कराने का सवाल है तो मैंने सोचा कि उन्होंने पूरे मैच में बढिय़ा गेदबाजी की है और उन्हीं से अंतिम ओवर फिंकवाना बेहतर होगा। हमारा स्कोर अच्छा था लेकिन चेन्ने का आगाज तूफानी रहा और यही सबसे बड़ा अंतर रहा। हम अपनी गलतियों को सुधारेंगे और उनसे सीखेंगे। उम्मीद है कि हम फाइनल में पहुंचेंगे।’

धोनी ने हमसे मैच छीन लिया : पृथ्वी शॉ
चेन्नै सुपर किंग्स के खिलाफ आतिशी अर्धशतक जमाने वाले दिल्ली कैपिटल्स के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने कहा, ‘जहां तक आखिरी के मारधाड़ वाले ओवरों में चेन्नै के कप्तान महेंद्र धोनी की छह गेंदों में 18 रन की ताबड़तोड़ पारी की बात यह तो मैं बस यही कहूंगा कि सभी जानते हैं धोनी सबसे अलग हैं। हमने धोनी को इस तरह मैच जिताते बहुतों बार देखा है। उन्हें हमारे खिलाफ इस तरह चेन्नै को जिताना और हमारे लिए यह देखना कोई नई बात नहीं है। जब भी धोनी बल्लेबाजी के लिए उतरते हैं तो वह खतरनाक खिलाड़ी हैं। मैं खुद को इस माहौल के बीच पाकर और उन्हें बल्लेबाज और लीडर के रूप में खेलते देखना अपनी खुशकिस्मती मानता हूं। धोनी से हमसे मैच छीन लिया। जहां तक मेरी अपनी पारी की बात है तो मैं उससे खुश हंू। मैं बस इतना जरूर महसूस करता हूं कि मुझे और लंबी पारी खेलनी चाहिए थी। मेरे लिए यह सबक है। मैं जब आगे कभी इसी स्थिति में होउंगा तो मैं और लंबी पारी खेलना चाहूंगा।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *