एक्शन, जीआरपी इंस्पेक्टर राकेश कुमार सस्पेंड शामली में पत्रकार की पिटाई का मामला: DGP ओपी सिंह ने लिया एक्शन, जीआरपी इंस्पेक्टर राकेश कुमार सस्पेंड

त्रकार ने आरोप लगाया है कि पुलिसवाले उनसे कैमरा छीनने लगे और कैमरा नीचे गिर गया. वह कैमरा उठाने के लिए झुके तो सादी वर्दी में एक पुलिसवाले ने पिटाई शुरू कर दी और गालियां देने लगा.

शामली: उत्तर प्रदेश के शामली जिले में पटरी से उतरी मालगाड़ी की कवरेज करने गए पत्रकार की पिटाई का मामला सामने आया है. मारपीट का आरोप जीआरपी कर्मचारियों पर लगा है. पत्रकार ने आरोप लगाया है कि पुलिसवाले उनसे कैमरा छीनने लगे और कैमरा नीचे गिर गया. वह कैमरा उठाने के लिए झुके तो सादी वर्दी में एक पुलिसवाले ने पिटाई शुरू कर दी और गालियां देने लगा. पिटाई का वीडियो वहां मौजूद अन्य पत्रकारों के कैमरे में कैद हो गया.

ये मामला प्रकाश में आने के बाद DGP ओपी सिंह ने जीआरपी  थाना प्रभारी राकेश कुमार और कांस्टेबल सुनील कुमार को सस्पेंड कर दिया है. साथ ही SP जीआरपी मुरादाबाद को मौके पर पहुंचने के दिए निर्देश देने के अलावा 24 घंटे में मामले की रिपोर्ट मांगी है.

पत्रकार का कहना है कि उसने कुछ दिनों पूर्व रेलवे में जीआरपी के अवैध वेंडरिंग की खबर चलाई थी, जिससे थाना प्रभारी जीआरपी राकेश कुमार नाराज थे. पत्रकार का दावा है कि जीआरपी थाना प्रभारी ने उसका मोबाइल छीन लिया और थाने ले जाकर जमकर पिटाई की. पत्रकार का कहना है कि थाना प्रभारी व उसके सहयोगियों ने हवालात में उसके मुंह पर पेशाब करने की कोशिश की.

बता दें कि शामली के धीमानपुरा फाटक के पास की है जहां ट्रैक बदलने के दौरान मालगाड़ी के कुछ डिब्बे पटरी से उतर गए थे.  शामली-सहारनपुर रेल मार्ग पर इस हादसे की वजह से ट्रैफिक प्रभावित हो गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *