खत्म होगा भारत-US के बीच टैरिफ संकट? वरिष्ठ अधिकारी करेंगे बैठक

मेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार भारत को टैरिफ बढ़ाने के मुद्दे पर खरी-खोटी सुनाते रहे हैं. हाल ही में जापान के ओसाका में जो G-20 समिट हुआ था, उसमें भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप के बीच इस मुद्दे पर बात हुई थी

भारत और अमेरिका के बीच टैरिफ के मुद्दे पर लंबे समय से जारी जंग के बीच आज दोनों देश एक मेज पर होंगे. नई दिल्ली में आज दोनों देशों के बीच ट्रेड के मुद्दे पर बातचीत होगी. इसके लिए अमेरिका की तरफ से एक प्रतिनिधिमंडल दिल्ली पहुंचा है. जिसमें साउथ एवं सेंट्रल अमेरिका ट्रेड ग्रुप के प्रमुख क्रिस्टोफर विल्सन भी शामिल हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार भारत को टैरिफ बढ़ाने के मुद्दे पर खरी-खोटी सुनाते रहे हैं. हाल ही में जापान के ओसाका में जो G-20 समिट हुआ था, उसमें भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी-डोनाल्ड ट्रंप के बीच इस मुद्दे पर बात हुई थी. अमेरिका का आरोप है कि भारत उनके प्रोडक्ट्स पर लगातार टैरिफ बढ़ाते जा रहा है.अब इस बैठक में इन्हीं मुद्दों पर चर्चा होगी, जिनमें अमेरिकी प्रोडक्ट्स पर हाई इम्पोर्ट ड्यूटी सबसे अहम है. बैठक से पहले मंगलवार को अमेरिकी राष्ट्रपति ने फिर भारत के खिलाफ ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था कि भारत लंबे समय से अमेरिकी प्रोडक्ट्स पर टैरिफ बढ़ा रहा है. जिसे अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

वहीं, अमेरिका की तरफ से जो ट्रेड ग्रुप आया है उसकी तरफ से बयान जारी किया गया है. इसमें कहा गया है कि भारत में अब चुनाव खत्म हो चुके हैं, इसलिए भारत सरकार के साथ इन मुद्दों पर आसानी से बात हो सकेगी. उम्मीद है कि अमेरिका और भारत के संबंध आने वाले दिनों में और भी प्रगढ़ होंगे.

गौरतलब है कि भारत के साथ अमेरिका का व्यापार साल 2017 के 22.3 अरब डॉलर के मुकाबले 2018 में 21.3 अरब डॉलर रह गया है. वहीं साल 2018 में भारत के साथ अमेरिकी वस्तुओं एवं सेवाओं का द्विपक्षीय व्यापार 142 अरब डॉलर का था, जो एक साल पहले की तुलना में 12.6 फीसदी ज्यादा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *