वित्‍त मंत्री अरुण जेटली का हाल जानने एम्‍स पहुंचे आडवाणी, नकवी समेत कई अन्‍य नेता…

पिछले कई दिनों से एम्‍स में भर्ती पूर्व वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार की कोई सूचना नहीं है। आज भाजपा के वरिष्‍ठ नेता लाल कृष्‍ण आडवाणी समेत कई अन्‍य नेताओं ने…

पूर्व वित्‍त मंत्री अरुण जेटली का हाल लेने सोमवार को भाजपा नेता लाल कृष्‍ण आडवाणी और उत्‍तराखंड मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत एम्‍स पहुंचे। बता दें कि जेटली अभी लाइफ सपोर्ट सिस्‍टम पर हैं। उनकी हालत बेहद गंभीर है। उन्‍हें एक्स्ट्रा कारपोरल मेंब्रेन ऑक्सीजेनेशन (ईसीएमओ) पर रखा गया है। इस पर उन्हीं मरीजों को रखा जाता है जिनका फेफड़ा और दिल काम करने में सक्षम नहीं होता।

केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी और भाजपा राष्‍ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने भी अस्‍पताल पहुंच जेटली का हालचाल लिया। इससे पहले केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, भाजपा सांसद स्वप्नदास गुप्ता और राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह भी अरुण जेटली को देखने एम्‍स गए थे।

केंद्रीय मंत्रियों राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी, जितेंद्र सिंह, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने एम्स पहुंचकर उनका हालचाल लिया। इसमें केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल कलराज मिश्र, आरएसएस के संयुक्त सचिव कृष्ण गोपाल, पूर्व समाजवादी नेता अमर सिंह भी हैं।

इसके अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृहमंत्री अमित शाह, योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अस्‍पताल जाकर अरुण जेटली का हाल लिया था। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शनिवार को अस्पताल गए थे। अन्य नेताओं में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, जम्मू एवं कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एम्स पहुंचकर उनका हाल जाना।

गिरती स्‍वास्‍थ्‍य के कारण नहीं लड़े चुनाव

इस साल मई में जेटली इलाज के लिए एम्‍स में भर्ती हुए थे। पेशे से वकील जेटली का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल के दौरान कैबिनेट में अहम स्‍थान था। इस दौरान उन्‍होंने वित्‍त और रक्षा पोर्टफोलियो संभाला। गिरते स्‍वास्‍थ्‍य के कारण जेटली 2019 लोकसभा चुनाव में खड़े नहीं हुए। पिछले साल अप्रैल से जेटली ने ऑफिस आना छोड़ दिया। इसके बाद 23 अगस्‍त 2018 में वे वापस वित्‍त मंत्रालय पहुंचे। सितंबर 2014 में उन्‍होंने बैरियाट्रिक सर्जी कराई थी ताकि वजन संतुलित हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *