शेयर बाजार में सकारात्मक रुख जारी, सेंसेक्स 223 अंक ऊपर….

प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 135.59 अंकों की मजबूती के साथ 37,485.92 पर, जबकि निफ्टी 47 अंकों की बढ़त के साथ 11,094.80 पर खुला…

सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को देश के शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में मजबूती का रुख है. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 135.59 अंकों की मजबूती के साथ 37,485.92 पर, जबकि निफ्टी 47 अंकों की बढ़त के साथ 11,094.80 पर खुला. शुरुआती कारोबार में बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.56 बजे 222.52 अंकों की मजबूती के साथ 37,572.85 पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी लगभग इसी समय 54.60 अंकों की बढ़त के साथ 11,102.40 पर कारोबार करते देखे गए.

शेयर बाजारों में तेजी, 255 अंकों की तेजी के साथ बंद हुआ सेंसेक्‍स

गौरतलब है कि 17 अगस्त को भी अधिकांश एशियाई बाजारों में तेजी तथा बैंकिंग और वाहन कंपनियों में खरीदारी के कारण घरेलू शेयर बाजार शुरुआती गिरावट से उबरने में कामयाब रहे और बढ़त के साथ बंद हुए थे. बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स कारोबार के दौरान करीब 470 अंक के उतार-चढ़ाव के बाद समाप्ति पर 38.80 अंक यानी 0.10 प्रतिशत बढ़कर 37,350.33 अंक पर बंद हुआ था. कारोबार के दौरान इसमें 37,444.45 अंक के उच्चतम स्तर तथा 36,974.41 अंक के निचले स्तर के बीच उतार-चढ़ाव देखने को मिला. इसी तरह एनएसई का निफ्टी कारोबार के दौरान 11,068.65 अंक के उच्च स्तर तथा 10,924.30 अंक के निचले स्तर के दायरे में रहा था.

रिजर्व बैंक के वृद्धि दर अनुमान कम किये जाने से 286 अंक टूटा सेंसेक्स

कारोबार की समाप्ति पर यह 18.40 अंक यानी 0.17 प्रतिशत की तेजी के साथ 11,047.80 अंक पर बंद हुआ था. सप्ताह के दौरान सेंसेक्स में 231.58 अंक यानी 0.60 प्रतिशत तथा निफ्टी में 61.85 अंक यानी 0.55 प्रतिशत की गिरावट रही. सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में येस बैंक में सर्वाधिक 3.79 प्रतिशत की तेजी रही. इसके अलावा पावरग्रिड, मारुति सुजुकी, इंडसइंड बैंक और एक्सिस बैंक के शेयर 2.85 प्रतिशत तक चढ़ गए. हालांकि, टीसीएस, वेदांता, एचसीएल टेक, एचडीएफसी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर 1.87 प्रतिशत तक की गिरावट में रहे थे.

भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट 0.35 प्रतिशत घटाई, लगातार चौथी बार घटी रेपो रेट

विशेषज्ञों के अनुसार, आर्थिक नरमी की चिंताओं, कमजोर तिमाही परिणाम तथा वैश्विक व्यापार में उथल-पुथल का निवेशकों की धारणा पर असर पड़ा था. सरकार ने विभिन्न क्षेत्रों में तेजी से बढ़ती आर्थिक नरमी को लेकर गुरुवार को अर्थव्यवस्था के हालात की समीक्षा की थी. इस बीच रुपया कारोबार के दौरान 15 पैसे की बढ़त के साथ 71.12 रुपये प्रति डॉलर पर चल रहा था. एशियाई बाजारों में चीन का शंघाई कंपोजिट, हांगकांग का हैंगसेंग और जापान का निक्की बढ़त में बंद हुआ था. हालांकि, दक्षिण कोरिया का कोस्पी गिरावट में रहा. यूरोपीय बाजार कारोबार के दौरान बढ़त में चल रहे थे. ब्रेंट क्रूड का वायदा 1.89 प्रतिशत की तेजी के साथ 59.33 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *