गालों में डिंपल पड़ना खुशी की बात नहीं, ये एक बीमारी है

नई दिल्ली (रविवार दिल्ली डेस्क) : डिंपल जिसे हम सभी बेहद खूबसूरत चीज मानते हैं. सेलिब्रिटीज में दीपिका पादुकोण से लेकर आलिया भट्टे के गालों पर डिंपल पड़ते हैं. दिखने में भी ये काफी सुंदर लगते हैं. जिन लोगों के गालों पर डिंपल पड़ते हैं उनकी एक मुस्कान के पीछे दुनिया कायल हो जाती है, लेकिन डॉक्टर्स की मानें तो ये उनके मुताबिक एक बीमारी का लक्षण है.

अब आप सोच रहे होंगे कि जिस चीज के पीछे पूरी दुनिया दीवानी है वे एक बीमारी कैसे हो सकती है? आपको बता दें कि जब चेहरे की मांसपेशियां किसी कारण से छोटी रह जाती है तो हंसते समय चेहरे को थोड़ा खींचना पड़ता है, ऐसे में डिंपल पड़ता है ताकि उसकी कमी को पूरा किया जा सके.

डिंपल तभी आ जाता है, जब बच्चा अपनी मां के पेट में होता है. कई कारणवश सबक्यूटेनीयस कनेक्टिव टिशू में कुछ बदलाव आ जाता है जिसकी वजह से डिंपल बनने लगता है. कई लोगों के साथ ऐसा भी होता है कि बचपन में तो गालों पर डिंपल पड़ते हैं, लेकिन बड़े होने के बाद वह गायब हो जाते हैं. इसका कारण यह है कि बचपन में बच्चे के गाल में मौजूद बेबी फैट खत्म होने लगता है तो डिंपल भी दिखना बंद हो जाता है.

डिंपल, जिसे औपचारिक रूप से जेलासिन कहा जाता है. शरीर पर कहीं भी दिख सकता है. इसमें ठुड्डी, कंधे, बट्स के ठीक ऊपर पीठ पर, जगह शामिल हैं जहां डिंपल हो सकता है. गालों के बाद डिंपल सबसे ज्यादा ठुड्डी में पड़ता है. ठुड्डी यानी चिन पर पड़ने वाला डिंपल न तो जेनेटिक होता है और न ही मांसपेशियों की कोई गलती होती है. ये तब होता है जब मां के गर्भ में पल रहे बच्चे की लेफ्ट और राइट साइड की ठुड्डी की हड्डी आपस में जुड़ नहीं जुड़ पाती है.

अब तो आप समझ ही गए होंगे कि गालों और ठुड्डी पर डिंपल क्यों पड़ते हैं. इसके लिए अगर अभी तक आपको अफसोस रहा है तो शुक्र मनाइए कि आपके गालों या ठुड्डी पर डिंपल नहीं पड़ते.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *