लिलिमा मिंज ने कहा अंतर्राष्ट्रीय हॉकी को अलविदा, अब भारत के लिए नहीं खेलेंगी

भारत को एशियाई खेलों की कांसा व रजत जिताने में निभाई अहम भूमिका

सत्येन्द्र पाल सिंह

नई दिल्ली : ओडिशा की अनुभवी मिडफील्डर लिलिमा मिंज ने बृहस्पतिवार को अंतर्राष्ट्रीय हॉकी को अलविदा कह दिया और वह अब भारतीय महिला हॉकी टीम के लिए नहीं खेलेंगी। लिलिमा ने 2011 में अर्जेंटीना में कुइलमस और पराना में चार देशो के महिला हॉकी टूर्नामेंट से भारत के लिए अंतर्राष्ट्रीय हॉकी करियर का आगाज किया था। भारत के लिए अपने एक दशक के शानदार अंतर्राष्ट्रीय करियर में लिलिमा ने 156 मैच खेले और 12 गोल किए और वह 2014उमें एशियाई खेलों में कांस्य और 2018 में एशियाई खेलों में रजत पदक जीतने वाली टीम की सदस्य रही। साथ ही लिलिमा ने भारत को 2019 में हिरोशिमा में एफआईएच महिला सीरीज फाइनल्स जिता सोने का तमगा जिताने में भी अहम भूमिका निभाई।

लिलिमा 36बरस के बाद 2016में रियो ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई करने वाली टीम की अहम सदस्य रही। साथ ही लिलिमा ने भुवनेश्वर में 2019 में एफआईएच ओलंपिक क्वॉलिफायर्स जिता टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई कराने में अहम योगदान किया। हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोमबम ने कहा, ‘लिलिमा मिंज ने अपने शानदार करियर में भारतीय हॉकी के लिए बड़ा योगदान किया। पिछले कुछ बरस में भारतीय महिला हॉकी में लिलिमा ने अहम योगदान किया। हॉकी इंडिया लिलिमा को उनके शानदार करियर के लिए बधाई देती है और उनके करियर के नए अध्याय के लिए शुभकामनाएं देती है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *